बलिस्थल सहित पूरा मंदिर प्रक्षेत्र पानी से हुआ लबालब

Share it