शोहरत की बुलंदी भी पल भर का तमाशा है

Share it