न मानदेय, न पोषाहार महाजन भी अब नहीं दे रहा उधार

Share it