जो संसार के कण-कण में रमण करें उसे राम कहते हैं : नीरज

Share it